UTTAR PRADESHLucknowPOLITICS

योगी सरकार नर्सिंग पैरामेडिकल में करेगी गुणात्‍मक सुधार

लखनऊ।  उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन (UP Skill Development Mission)  में स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़े पांच नए कोर्सों को जल्‍द शामिल किया जाएगा। जिसमें ओटी टेक्‍नीशियन, रेडियोथेरेपी टेक्‍नीशियन, एनेस्‍थीसिया टेक्‍नीशियन, डायलिसिस टेक्‍नीशियन और एमआरआई टेक्‍नीशियन के कोर्सों को शामिल किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार (Yogi Sarkar) ने पिछले 5 सालों में स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास में कोई  कसर नहीं छोड़ी है। यह इसी का परिणाम रहा की अपने पिछले कार्यकाल में उत्तर प्रदेश की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिली हैं।

पर्यटकों को मिलेगा नेचुरल पिकनिक स्पॉट: योगी

ऐसे में योगी सरकार (Yogi Sarkar) 2.0 ने आने वाले पांच सालों के लिए एक बेहतरीन रोडमैप तैयार कर लिया है। पिछले कई दशकों से यूपी की स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं में रोढ़ा बने मानव संसाधन के लिए योगी सरकार ने एक बेहतरीन योजना के तहत काम करने जा रही है।

योगी सरकार (Yogi Sarkar) नर्सिंग पैरामेडिकल (Nursing Paramedical) में गुणात्‍मक सुधार करेगी । सरकारी मेडिकल कॉलेजों (gov medical colleges), जिला अस्‍पतालों में नर्सिंग कॉलेज (Nursing Colleges) की स्‍थापना और सीट में वृद्धि‍ की जाएगी । इसके साथ ही प्राइवेट नर्सिंग कॉलेज की गुणवत्‍ता में सुधार किया जाएगा।

योगी 2.0 में जीवन की सुगमता की ओर बढ़ी सरकार

योगी सरकार (Yogi Sarkar) ने इसके लिए एक बेहतरीन रोडमैप तैयार किया जाएगा। प्रदेश में छह माह में पांच नर्सिंग स्‍कूल, तीन पैरामैडिकल (Paramedical) को क्रियाशील किया जाएगा वहीं 24 स्किल लैब का शिल्‍यान्‍यास किया जाएगा। नीट के जरिए से जीएनएम (JNM) और बीएससी नर्सिंग  (B.Sc Nursing)  में प्रवेश किया जाएगा।

पांच सालों में 49 से अधिक नर्सिंग स्‍कूल प्रदेश में होंगे क्रियाशील

प्रदेश में पांच सालों में 49 से अधिक नर्सिंग स्‍कूल क्रियाशील होंगे वहीं पैरामैडिकल (Paramedical) के लिए 49 क्रियाशील होंगे। पांच सालों में एमबीबीएस की 7000, पीजी की 3000, नर्सिंग (Nursing) 14,500 और पैरामेडिकल (Paramedical) की 3,600 सीटों को बढ़ाया जाएगा।  पिछली सरकारों के मुकाबले योगी सरकार(Yogi Sarkar)  का कार्यकाल स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं के लिए स्‍वर्णिम युग लेकर आई है। 24 करोड़ की आबादी वाले प्रदेश में साल 2017 से पहले जहां महज 12 मेडिकल कॉलेज थे वहीं योगी सरकार (Yogi Sarkar) द्वारा सत्‍ता की कमान संभालने के बाद यूपी में तेजी से चिकित्‍सीय सुविधाओं में विस्‍तार किया गया।

इटावा: दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर हादसा, पटरी से उतरे मालगाड़ी कई डिब्बे

Related Articles

Back to top button