LIFESTYLE

देखें हार्ट अटैक के शुरुआती लक्षण, इग्नोर करने से हो सकता है जान का खतरा

नई दिल्ली। पहले के समय में हार्ट अटैक (Heart Attack) को बढ़ती उम्र से जुड़े एक रोग की तरह देखा जाता था। हालांकि आज जरूरत से ज्यादा तनाव और खराब जीवनशैली की वजह से यह समस्या कम उम्र के लोगों में भी देखी जा रही है। हार्ट अटैक (Heart Attack) को लेकर लोगों के मन में यह धारणा बनी हुई है कि जब किसी व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ता है तो उसे उसी समय दिल के आस-पास दर्द होने लगता है। लेकिन ऐसा नहीं है। जी हां, हार्ट अटैक आने से कई महीने पहले या कई सप्ताह पहले ही हमारा शरीर हमें कई तरह के संकेत देने लगता है कि शरीर के अंदर सब कुछ ठीक नहीं है, हमें अपनी सेहत पर ध्यान देने की जरूरत है। लेकिन जानकारी के अभाव में हम शरीर के इन संकेतों को अनदेखा कर देते हैं। सेहत के साथ बरती गई ये लापरवाही भविष्य में हार्ट अटैक (Heart Attack) का कारण बन जाती है।

हार्ट अटैक (Heart Attack) के शुरुआती लक्षण-

हाथ-पैरों में सूजन-

अगर किसी व्यक्ति के पैर, पंजे या एड़ी में सूजन की समस्या है तो ये चिंता का विषय हो सकता है। डॉक्टर्स की मानें तो अक्सर जब इंसान का दिल खून को ठीक से पंप नहीं कर पाता है तो हाथ और पैरों में सूजन बढ़ने लगती है।

सांस फूलना-

अगर आपको किसी तरह की परेशानी नहीं है लेकिन रोजाना पैदल चलने या फिर दो मंजिल चढ़ने-उतरने से ही सांस फूलने लगती हैं तो इस समस्या को अनदेखा नहीं करना चाहिए।

पोस्टप्रैंडियल एंजाइना-

पोस्ट प्रैंडियल एंजाइना सीने में उठने वाले उस तेज दर्द को कहते हैं, जो खाना खाने के बाद उठता है। यानी खाना खाने के बाद अगर आप तुरंत चलने लगते हैं तो आपको दिक्कत होने लगती है। इस दौरान सीने में जलन के साथ तेज दर्द होता है। इस स्थिति में जब व्यक्ति रुकता है और आराम करता है तो यह दर्द ठीक हो जाता है। अगर यह स्थिति किसी के साथ लंबे समय से बनी हुई है तो यह भी हार्ट की बीमारी का लक्षण हो सकती है।

आइए जानते हैं एलोवेरा जेल के कुछ ब्यूटी हैक्स

दर्द –

कई बार कुछ लोगों को लेफ्ट हेंड यानी बाएं हाथ में दर्द रहने की समस्या होने लगती है। यह दर्द जॉ लाइन यानी जबड़े तक जाता है। जबकि कुछ लोगों में लेफ्ट और राइट दोनों हाथों में दर्द हो सकता है, साथ ही यह दर्द जॉ लाइन तक जाता है। तो भी ये दिल से जुड़ी बीमारी का संकेत हो सकता है।

थकान महसूस होना-

अक्सर थकान को कमजोर से जोड़कर देखा जाता है। लेकिन अगर आप कोई भी काम करते हुए जल्दी-जल्दी थकान महसूस करने लगते हैं तो ये हार्ट की बीमारी का लक्षण भी हो सकता है। ऐसा हार्ट की किसी नली में सूजन या इंफेक्शन की दिक्कत होने पर भी होता है।

तेज पसीना आना-

बिना किसी खास कारण के अगर आपको तेज पसीना आ रहा है, मतलब बिना कोई शारीरिक श्रम या फिर गर्मी के भी आप पसीना-पसीना हो जाते हैं तो यह भी दिल की कमजोरी का एक लक्षण हो सकता है।

स्तनपान कराने वाली महिलाएं करें इसका सेवन

Related Articles

Back to top button