UTTAR PRADESH

प्रदेश सरकार राहत और बचाव कार्य में कोई कोताही नहीं बरतेगी: सीएम योगी

वाराणसी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने बुधवार को वाराणसी मंडल के बाढ़ प्रभावित जिलों गाजीपुर, चंदौली और वाराणसी का दौरा किया। गंगा के जलस्तर में हुई बढ़ोतरी के कारण बाढ़ की चपेट में आए जिलों का सीएम ने पहले हवाई फिर ग्राउंड जीरो पर उतरकर जायजा लिया। गाजीपुर और वाराणसी में बाढ़ प्रभावितों से मुलाकात करने के साथ ही उनकी कुशलक्षेम पूछी और राहत सामग्री वितरित की। सीएम ने बाढ़ प्रभावितों को आश्वस्त किया कि आपदा की इस घड़ी में डबल इंजन की सरकार हर कदम पर उनके साथ है।

बाढ़ प्रभावितों में राहत सामग्री का वितरण

मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ (cm yogi) ने सबसे पहले गाजीपुर जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई निरीक्षण किया। इसके बाद मोहम्मदाबाद स्थित अष्ट शहीद इंटर कॉलेज में बनाए गए राहत शिविर में सीएम ने बाढ़ प्रभावितों में राहत सामग्री का वितरण किया।

राजस्थान और मध्यप्रदेश की बारिश से आई बाढ़

सीएम (cm yogi) ने यहां अपने संबोधन में कहा कि राजस्थान और मध्य प्रदेश में हुई अत्यधिक बारिश के कारण पहले चंबल, बेतवा और अन्य नदियों का जलस्तर बढ़ा, इसके बाद यमुना और फिर गंगा में बाढ की स्थिति उत्पन्न हुई है। उन्होंने बाढ़ प्रभावितों को आश्वस्त किया कि इस आपदा की घड़ी में सरकार आपके साथ है। सरकार युद्धस्तर पर हर सहायता मुहैया कराने में जुटी हुई है।

किसानों की चिंता कर रही सरकार

उन्होंने कहा एक तरफ बाढ़ दूसरी तरफ कम बरसात की मार झेल रहे किसानों की चिंता भी सरकार कर रही है। हमने दलहन, तिलहन और सब्जी आदि के बीज किसानों को निःशुल्क उपलब्ध कराने के लिये कृषि एवं उद्यान विभाग को निर्देशित किया गया है।

सीएम योगी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया दौरा, लोगों को बांटी राहत सामग्री

बाढ़ प्रभावितों की सहायता करें जनप्रतिनिधि

मुख्यमंत्री ने जन प्रतिनिधियों को भी तत्परता के साथ बाढ़ राहत कार्य में जुटकर लोगों की सहायता के लिये कहा है। उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार में बाढ़ पीड़ितों को राहत देने में कोई कोताही नहीं बरती जाएगी। सरकार हर स्तर पर प्रभावितों के साथ खड़ी है।

चंदौली का हवाई दौरा, बनारस में ग्राउंड जीरो पर लिया हालत का जायजा

मुख्यमंत्री ने इसके बाद चंदौली जिले का हवाई दौरा किया। तपश्चात सीएम सीधे वाराणसी के बीएचयू स्थित हेलीपैड पहुंचे। यहां से वे अस्सी घाट पहुंचे और एनडीआरएफ की टीम के साथ वाराणसी के बाढ़ प्रभावित इलाकों का ग्राउंड जीरो पर निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने वाराणसी के अस्सी, नगवा सहित कई निचले इलाकों का निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ कैबिनेट मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह, वाराणसी के पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश और जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा मौजूद रहे।

गोयनका विद्यालय में बने राहत शिविर का किया दौरा

निरीक्षण के पश्चात मुख्यमंत्री गोनयका विद्यालय स्थित बाढ़ राहत शिविर पहुंचे। सीएम ने यहां विभिन्न कमरों में सुरक्षित पहुंचाए गए बाढ़ विस्थापितों से मुलाकात की और उनकी कुशलक्षेम पूछी, बच्चों को टॉफी चॉकलेट बांटी और उन्हें समय पर भोजन, दूध आदि मिल रहा है या नहीं, इसकी जानकारी भी ली। मुख्यमंत्री ने यहां बाढ़ प्रभावितों को राहत सामग्री के पैकेट भी वितरित किए।

खेलों को प्रमोट कर रही योगी सरकार

काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना

इसके बाद सीएम योगी सीधे श्रीकाशी विश्वनाथ धाम पहुंचे। यहां उन्होंने बाबा विश्वनाथ का विधि-विधान से दर्शन पूजन किया। सीएम ने धाम का निरीक्षण किया साथ ही गंगा द्वार तक गए और यहां गंगा में आयी बाढ़ का जायजा लिया। सीएम इस दौरान जिला प्रशासन के अधिकारियों और राहत कार्य में जुटे अफसरों को निर्देश देते रहे।

Related Articles

Back to top button