UTTAR PRADESH

ड्रग माफिया के खिलाफ अब यूपी में निर्णायक जंग: सीएम योगी

बुलन्दशहर। नशे के अवैध कारोबारियों की संपत्ति जब्त करने का ऐलान कर चुके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने अब ड्रग माफिया के खिलाफ निर्णायक जंग की घोषणा की है। इस लड़ाई में जनता से सहयोग का आह्वान करते हुए मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने कहा है कि सरकार जल्द ही एक आनलाइन पोर्टल शुरू करने जा रही है, जहां आम आदमी नशे के अवैध धंधे और उसमें संलिप्त अपराधियों की जानकारी सीधे सरकार को दे सकेगा।

हालिया विधानसभा चुनाव में अभूतपूर्व जीत हासिल करने के बाद मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) शनिवार को पहली बार बुलंदशहर पहुंचे थे। भाजपा पर भरोसा जताने के लिए जनता का आभार जताते हुए सीएम ने कहा कि बुलन्दशहर को जिस विकास से वंचित रखा गया, आज उसे मिल रहा है। यहां के जनप्रतिनिधि जब लखनऊ आते हैं, तो यहां के मुद्दों पर विमर्श करते हैं। आज का बुलन्दशहर तो एनसीआर से जुड़ गया है। केंद्र और राज्य सरकार द्वारा बुलन्दशहर की तरक्की के लिए हो रही कोशिशों का जिक्र करते हुए सीएम ने कहा कि अब यहां पॉवर जेनरेशन प्लांट लग रहा है। गंगा मइया की अविरलता-निर्मलता के लिए नमामि गंगे परियोजना के माध्यम से काम हो रहा है। खुर्जा की पॉटरी और सिकंदराबाद के औद्योगिक इकाइयों को आगे बढ़ाने के प्रयास रंग ला रहे हैं।

जनसभा से ठीक पहले कल्याण सिंह राजकीय महाविद्यालय के निर्माण कार्यों का जायजा लेकर आए सीएम योगी ने कहा कि अब अगले सत्र से यहां एमबीबीएस की पढ़ाई शुरू हो जाएगी और बेटियों के लिए नर्सिंग कॉलेज भी शुरू हो जाएगा। जेवर एयरपोर्ट से बुलन्दशहर की तरक्की की बात करते हुए सीएम ने कहा कि बुलन्दशहर से महज 25 किलोमीटर दूर जेवर में एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बन रहा है और एयरपोर्ट के बारे में तो कहा जाता कि अगर यह 50-55 किमी दूर भी हो तो मानो घर के आंगन में ही है। इसी तरह, राजा महेंद्र प्रताप राज्य विश्वविद्यालय, डिफेंस कॉरिडोर, फिल्म सिटी, मेडिकल डिवाइस पार्क तैयार होने से बुलन्दशहर की तरक्की के नए रास्ते खुलेंगे। उन्होंने कहा कि जिस बुलन्दशहर में पहले बेटियों और व्यापारियों के लिए अपराधी संकट थे, आज उन अपराधियों के लिए पुलिस संकट बन गई है। सीएम के यह कहने पर लोगों ने तालियां बजाकर योगी-योगी के नारे लगाए।

तीर्थ यात्रियों के लिए काशी की 10 पावन यात्राओं को सुगम बनाएगी योगी सरकार

‘ईज आफ लिविंग’ के लिहाज से तकनीक के महत्व पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री (CM Yogi)ने कोरोनाकाल में भरण-पोषण भत्ता दिए जाने, पारदर्शी ढंग से मुफ्त राशन वितरण से आम आदमी को मिले त्वरित लाभ पर संतोष जताया। आमजन को तकनीक के इस्तेमाल के लिए जागरूक करते हुए सीएम ने कहा कि सरकार अपने युवाओं को तकनीकी रूप से दक्ष और सक्षम बना रही है और इसीलिए अब 02 करोड़ युवाओं को नि:शुल्क टैबलेट/स्मार्टफोन दिए जा रहे हैं। पीएम स्वनिधि योजना और स्वामित्व योजना की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार रेहड़ी पटरी व्यवसायियों के बारे में कोई सरकार सोच रही है। पुश्त दर पुश्त अपने पैतृक घरों में रहने के बाद भी मालिकाना हक से वंचित लोगों को घरौनी प्रमाण पत्र मिल रहा है। यह बदलाव है, जिसके लिए बुलन्दशहर दशकों से इंतजार कर रहा था।

बुलन्दशहर में मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) ने शासन की विभिन्न लाभार्थीपरक योजनाओं के पात्रों को लाभान्वित किया। उन्होंने कहा कि सरकार को जनता से ही धन प्राप्त होता है और इसका खर्च जनता के लिए ही होगा। सीएम ने पीएम आवास योजना (शहरी) के  अंतर्गत स्वाति को आवास की प्रतीकात्मक चाबी सौंपी तो कैलाश भटनागर को ऋण वितरण प्रमाण पत्र, आकांक्षा रजनी को किराना स्टोर के लिए 2-2 लाख के चेक, राजबाला, कमलेश, सुनीता को मत्स्य पालन के लिए पट्टा आवंटन और प्रेमलता को आवासीय परिसर के स्वामित्व के लिए घरौनी प्रमाण पत्र दिया।

मुख्यमंत्री ने भाजपा जनप्रतिनिधियों संग की बैठक

इसी तरह आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री पवन कुमारी और सहायिका मंजू को गणवेश प्रदान किया। अनुसूचित जाति की महिलाओं के स्वावलम्बन से जोड़ने के लिए सीएम ने राशि और अनीता को सिलाई मशीन दिए तो राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत विभिन्न मदों के लिए ?5.68 करोड़ की धनराशि महिला स्वयं सहायता समूह की ओर से रेनू और महक ने प्राप्त किया। इसी प्रकार बिजली सखी क्षमा शर्मा को सर्वाधिक बिल संग्रह के लिए शील्ड देकर प्रोत्साहित किया। सीएम ने तहसील सिकंदराबाद को आईएसओ प्रमाण पत्र भी सौंपा।

Related Articles

Back to top button