अवैध मजारों को तोड़ने में धामी का बुलडोजर व्यस्त, कुछ क्षेत्रों में विरोध हुआ

Dhami's bulldozer ran on illegal tombs

देहारादून। राज्य में लैंड जिहाद (Land Jihad) के खिलाफ धामी सरकार (Dhami Government) का बुलडोजर (Bulldozer) सरकारी और वन विभाग की भूमि पर अवैध रूप से बनाई गई मजारों को ध्वस्त करने में लगा हुआ है।

सोमवार को कुछ स्थानों पर एक समुदाय विशेष के लोगों ने सरकार के इस काम का विरोध करते हुए शासन-प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन और नारेबाजी की गई लेकिन पुलिस फोर्स की मौजूदगी के कारण विरोध करने वाले लोग मजारों को टूटने से नहीं बचा सके। अधिकारियों का कहना है कि वन विभाग की जमीन पर अवैध अतिक्रमण को कतई भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और कार्यवाही लगातार जारी रहेगी।

राज्य में धार्मिक संरचनाओं की आड़ में किए गए अतिक्रमण को हटाने का काम लगातार जारी है। बीते दिन जहां 20 मजारों पर बुलडोजर की कार्रवाई की गई थी वहीं सोमवार को भी नेशनल कार्बेट टाइगर रिजर्व पार्क में बनी शेर अली बाबा की दरगाह सहित आसपास के क्षेत्र में 10 मजारों पर बुलडोजर (Bulldozer)चलाकर उन्हें ध्वस्त कर दिया गया।

शेर अली बाबा की मजार को आज तोड़ा गया है, वहां 24 मई से उर्स मेले का आयोजन किया जाना था। इसके लिए चंदा जमा किया जा रहा था। कार्बेट पार्क प्रशासन कई दिनों से कार्रवाई करने में हिचक रहा था, लेकिन इस मजार पर बुलडोजर (Bulldozer)चला ही दिया गया। बिजरानी रेंज में बनी थपली बाबा की मजार को भी तोड़ दिया गया।

सीएम धामी ने काशीपुर को दी सौगात, करोड़ों की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास

एक समुदाय विशेष के लोग यह कहकर मजार को तोड़ने का विरोध कर रहे थे कि यह मजार 140 साल पुरानी बाजार थी। लोगों का कहना है कि यहां हर साल हजारों लोग जियारत के लिए आते थे। लोगों के विरोध के मद्देनजर पुलिस ने मजार जाने वाले रास्तों पर आवाजाही रोक दी थी। कुछ लोगों की इसे लेकर पुलिस के साथ नोकझोंक भी हुई लेकिन प्रशासन और पुलिस ने इस मजार को तोड़ दिया।

उधर टिहरी के पौड़ी खाल में बनी एक 20-25 साल पुरानी मजार को ध्वस्त कर दिया गया। यह मजार वन भूमि पर बनी हुई थी। राज्य में अब तक कुछ 335 मजारों को तोड़कर 84 हेक्टेयर जमीन को कब्जा मुक्त कराया गया है जबकि सर्वे के अनुसार राज्य में 118 61 हेक्टेयर जमीन पर धार्मिक संरचनाओं की मौजूदगी की बात सामने आई थी। अधिकारियों का कहना है कि अवैध अतिक्रमण पर की जाने वाली कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।