UTTAR PRADESH

CM Yogi ने ‘मोदी@20’ पुस्तक का किया विमोचन

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर लिखित पुस्तक मोदी@ 20 ’सपने हुए साकार के हिन्दी संस्करण का लोकार्पण किया। सिगरा स्थित रूद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में आयोजित भव्य समारोह में मुख्यमंत्री ने पुस्तक की जमकर सराहना के बाद प्रबुद्ध लोगों से संवाद में कहा कि हम सभी आह्लादित और गौरवान्वित हैं।

मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) ने कहा कि दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेताओं में शुमार भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 20 वर्ष के उस सार्वजनिक कार्यप्रणाली की इस पुस्तक का लोकार्पण करके जो समाज के अलग अलग तबके से जुड़े लोगों ने प्रस्तुत किया है। यह स्वागत योग्य कदम है। निश्चित रूप से यह किताब आमजन के लिए पढ़ने योग्य होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुनिया के अंदर वैश्विक मंच पर विश्व मानवता के लिए निती निर्धारित की जायेगी तो भारत के वगैर यह क्रियान्वित नही हो पायेगा।

वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव का जिक्र कर मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनमानस की ओर से स्लोगन निकला ’मोदी है तो मुमकिन है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसे हर स्तर पर कर दिखाया। आज आज भारत दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। उस ब्रिटेन को पछाड़कर भारत दुनियां का पांचवी अर्थव्यवस्था बना है, जिसने सैकड़ों साल हम पर शासन किया।

संकट के समय व्यक्ति के योग्यता का पता चलता है

मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने वैश्विक महामारी कोरोना के दौर का उल्लेख करते हुए कहा कि संकट के समय व्यक्ति के योग्यता,निर्णय लेने की क्षमता का पता चलता है। अनुकूल परिस्थिति में कोई भी सफलता पा सकता है। लेकिन विपरित परिस्थिति में व्यक्ति के योग्यता की कसौटी के मानक बन सकते है। महामारी के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अकेले राजनेता रहे जिन्होंने परिणाम की चिंता किये बगैर पहले दिन से ही उन्होंने देश को मंत्र दिया। 22 मार्च 2020 को हर घर में ताली-थाली बजाई गई। लाॅकडाउन में भी देश में कुशल प्रबंधन दुनिया ने देखा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उस दौर में हर देश परेशान था। तब 2.-2 स्वदेशी वैक्सीन भारत ने बनाया। दुनिया के 25-30 देशों को भी भारत का बना कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध कराई गई। देश में 200 करोड़ डोज वैक्सीन फ्री लोगों को उपलब्ध कराया गया। देश आजादी का 75वां अमृत महोत्सव मना रहा है। हर घर तिरंगा कार्यक्रम जन सरोकार का सबसे बड़ा उदाहरण है।

वैक्सीन को भारत आने में 100 वर्ष लग गए

मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने गोरखपुर में फैले इंसेफेलाइटिस की चर्चा करते हुए बताया कि 1977 में यह फैला था। लेकिन उस समय की सरकार के कानों तक इसकी सूचना पहुंची । 1998 में जब मैं वहां का सांसद बना और इसकी वैक्सीन वर्ष 2005 में आया। जबकि वर्ष 1905 में ही इसकी वैक्सीन जापान में बन गया था। वैक्सीन को भारत आने में 100 वर्ष लग गए। मुख्यमंत्री ने वैश्विक महामारी में केन्द्र और प्रदेश सरकार के कार्यो को बताते हुए कहा कि इस महामारी पर आज प्रभावी नियंत्रण है। देश में अब नारे नहीं जमीनी धरातल पर काम दिखता है। केन्द्र सरकार के जनधन योजना,प्रधानमंत्री आवास योजना,उज्ज्वला योजना आदि जन कल्याणकारी योजनाओं को गिनाते हुए कहा कि इसमें भेदभाव नही हुआ। भारत का नागरिक है ,पात्रता के श्रेणी में आता है तो उसे योजनाओं का लाभ मिल रहा है। एक एक योजना का लाभ समाज के अंतिम पायदान के बैठे व्यक्ति को मिल रहा है।

सीएम योगी ने बाबू राजेश्वर प्रसाद सिंह की प्रतिमा का किया अनावरण

जन जन के खाते खुले, लोग सवाल उठाते रहे

बगैर नाम लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जनधन योजना में जब जन-जन के खाते खुले लोग कहते थे। पैसा कब आएगा वो लोग जो 1 रुपये में 85 पैसा खाते थे वो पूछते थे। यदि यह जनधन खाता नहीं होता तो कोरोना कॉल में डीबीटी से पैसा कैसे पहुंचता। पैसा बैंक में जमा होता है, तो परिवार आर्थिक स्वावलंबन की ओर बढ़ता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2014 में 2 अक्टूबर को स्वच्छ भारत योजना देश में चलाई। तब भी लोगों ने सवाल उठाए थे। लेकिन आज लोग इसे समझ चुके हैं। कितनी बीमारियों पर अंकुश स्वच्छता से लगाया जा चुका है।

विरासत को सम्मान दिया गया

मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने कहा कि विरासत को भी सम्मान दिया गया है। योग को दुनिया के वैश्विक मंच पर स्थापित करने का भी कार्य किया गया। 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूरा दुनिया मनाता है। दुनिया के 175 देशों में लोग योग दिवस मनाते हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दुनिया का कोई ऐसा क्षेत्र नहीं जिसे दुनिया के वैश्विक मंच पर स्थापित करने का कार्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नहीं किया। सभी क्षेत्रों में भारत का मान दुनिया के वैश्विक मंच पर बड़ा है। कुंभ को मानवता का मूर्त रूप बनाने का कार्य किया गया। श्री काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर दुनिया के सामने हैं। 500 वर्ष में कितनी ही पीढ़ियां गुजर गई, लेकिन अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आए। उन्होंने कहा कि एक समय वह था जब सोमनाथ मंदिर के जीर्णोद्धार कार्यक्रम में जाने से प्रधानमंत्री को रोका गया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यशैली का उल्लेख करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में किए गए कार्य के फल स्वरुप गुजरात के विकास मॉडल की चर्चा पूरे देश-दुनिया में हुई और आज भारत का मॉडल पूरी दुनिया में प्रस्तुत किया जाता है।

मोदी@20 में इनके है विचार

मोदी @20 पुस्तक में इंटरनेशनल सोलर एलाएंस के महानिदेशक अजय माथुर, भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, अमीष त्रिपाठी, गृहमंत्री अमित शाह, अभिेनता अनुपम खेर, अरविंद पनघड़िया, अशोक गुलाटी, डॉ देवी शेट्टी, मनोज डडवास, नंदन नीलकेणी, नृपेन्द्र मिश्रा, प्रदीप गुप्ता, पीवी सिंधू, सदगुरू जग्गी वासुदेव, डॉ समिका रवि, शोभना कॉमलेनी, सुधा मूर्ति, सुरजीत भल्ला, एस जयशंकर, उदय कोटक, डॉ वी अनंत नागेश्वरन शामिल हैं। पुस्तक की प्रस्तावना अपने जीवन काल में भारत रत्न लता मंगेश्कर ने लिखी थी।

समारोह में इनकी रही उपस्थिति

लोकार्पण समारोह में राज्यमंत्री रविन्द्र जायसवाल,डाॅ दयाशंकर मिश्र ’दयालु’, विधायक शहर दक्षिणी डाॅ नीलकंठ तिवारी, कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव, रोहनिया डाॅ सुनील पटेल, महापौर मृदुला जायसवाल , बीएचयू कुलपति पद्मश्री प्रो.सुधीर कुमार जैन, जिला पंचायत अध्यक्ष के साथ भाजपा के स्थानीय पदाधिकारी भी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button