NATIONALPOLITICSUTTAR PRADESH

सीएम योगी ने बेंगलूरू में योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा केन्द्र ‘क्षेमवन’ का किया उद्घाटन

बंगलुरु। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में गुरुवार को श्रीधर्मस्थल मंजूनाथेश्वर इंस्टीट्यूट ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगिक साइंस (एसडीएमआईएनवाईएस) के “क्षेमवन” नामक एक स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन किया। इस मौके पर उनके साथ कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई भी मौजूद रहे।

 

कर्नाटक के एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) ने उद्घाटन समारोह में कहा कि यह मेरे लिए अद्भुत क्षण है। कर्नाटक और उत्तर प्रदेश का बहुत घनिष्ठ संबंध है। कर्नाटक की परम्परा है कि भगवान श्री मंजूनाथ के अनुयायी गोरक्ष की परम्परा को आगे बढ़ाते हैं। यह अद्भुत केन्द्र खुल रहा है।

CM Yogi

कर्नाटक को संकट मोचक कहा गया है। भगवान श्रीराम जब जंगलों में घूम रहे थे तब हनुमान जी इसी कर्नाटक में उन्हें मिले थे। उनके साथ से राम सेतु का निर्माण हुआ। बोम्मई जी भी एक योगी की तरह ही कर्नाटक की सेवा कर रहे हैं। विरेन्द्र हेगड़े इस केन्द्र के माध्यम से एक योगी के रूप में समाज को आगे बढ़ा रहे हैं।

CM Yogi

गन्ने से घुल रही महिलाओं के जीवन में मिठास

मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) ने कहा कि यह शहर आईटी एवं बॉयोटेक्नोलॉजी का हब माना जाता है। यह शहर दुनिया का मार्गदर्शन करता दिखाई दे रहा है। जब प्रधानमंत्री मोदी भारत की अर्थव्यवस्था को पांच ट्रीलियन तक ले जाने का आह्वान कर रहे हैं तो बंगलुरु का अहम योगदान हो सकता है। ऐसे समय में यह भी देखा जाना जरूरी है कि भारत के धर्मस्थलों की भूमिका क्या होनी चाहिए। विश्व योग दिवस के माध्यम से पूरी दुनिया भारत से जुड़ती दिखाई दे रही है।

CM Yogi

175 देशों ने योग से जुड़कर योग और आध्यात्मिक ताकत का लोहा माना है। धर्म के सभी कार्य शरीर से ही संभव हैं। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योग जरूरी है।

CM Yogi

भले ही लोग एलोपैथी की ओर भाग रहे हों लेकिन शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाना है तो आयुर्वेद, यूनानी, होम्योपैथी, नेचुरोपैथी समेत पारम्परिक पद्धति की ओर जाना होगा। एक चौथाई आबादी होने के बावजूद कोविड के दौरान अमेरिका में भारत से दोगुनी मौत हुई। उप्र में नया आयुष विश्वविद्यालय बनाया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button