Business

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया बंद करने जा रही है अपनी 600 ब्रांच

नई दिल्ली। सेंट्रल बैंक ऑफ बैंक इंडिया (Central Bank Of India) 600 से ज्यादा अपनी शाखाएं बंद करने जा रहा है? इस तरह की चर्चा पिछले कई दिनों से टल रही है। अब बैंक की तरफ से भी इसको लेकर बयान जारी किया गया है।

बैंक ने कहा है कि अभी शाखाओं को बंद करने को लेकर कोई फैसला नहीं किया गया है। बता दें, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank Of India) को 2017 से ही त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई (पीसीए) के तहत रखा गया है।

कच्चा तेल 112 डॉलर पार, पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank Of India) ने 2017 अप्रैल से दिसंबर 2021 तक 186 शाखाओं को बंद किया था। एक रिपोर्ट में कहा गया कि बैंक 600 और शाखाओं को इस वित्त वर्ष बंद करने जा रहा है। इसके  बाद बैंक की तरफ से कहा गया कि ऐसा कोई फैसला अबतक नहीं लिया गया है।

बैक ने कहा कि सभी बैंक अपने ग्राहकों और बिजनेस को ध्यान में रखते हुए शाखाओं का विलय, स्थान परिवर्तन जैसे बदलाव समय-समय पर करते रहते हैं। बता दें, दिसंबर 2021 तक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank Of India)  के पास 4,528 शाखाएं थी।

महंगाई ने तोड़ी कमर, घरेलू गैस सिलेंडर हुआ 50 रुपये महंगा

RBI ने क्यों की थी कार्रवाई?

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने साल 2017 में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank Of India) को अन्य 11 बैंकों को पीसीए के तहत लखा गया था। रिज़र्व बैंक की तरफ से तब यह कार्रवाई वित्तीय स्थिति में गड़बड़ी की वजह से की गई थी।

हालांकि अन्य बैंकों ने अपनी स्थिति में सुधार किया और इस सूची से खुद को बाहर कर लिया,  लेकिन सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank Of India)  इस लिस्ट में अबतक बना हुआ है। बता दें, इस नियामक के तहत बैंक को ढेर सारी जांच का सामना करना होता है। साथ ही शाखाओं में विस्तार के साथ कई अन्य तरह के प्रतिबंधों का सामना करना पड़ता है।

Air India के बाद अब ये कंपनी होगी प्राइवेट, इतने की लगी बोली

Related Articles

Back to top button