UTTAR PRADESHLucknow

ऊर्जा मंत्री की पहल से ग्रामवासियों को मिली लो-वोल्टेज की समस्या से मुक्ति

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) के कुशल मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में प्रदेश सरकार नागरिकों की समस्याओं के समाधान के लिए तत्परता से कार्य कर रही है। अभी हाल ही में कुशीनगर जनपद के कसया तहसील के हाटा ब्लाक अंतर्गत भगवानपुर नौगांवा गांव के निवासियों की विद्युत आपूर्ति ट्रांसफार्मर के बार-बार जल जाने से बिजली संकट तथा कम क्षमता का ट्रांसफार्मर लगा होने से लो-वोल्टेज जैसी समस्याओं से विगत 02 वर्षों से जूझना पड़ रहा था, जिसके लिए ग्रामीणों ने ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (AK Sharma) द्वारा संचालित जनसुनवाई पोर्टल ’सम्भव’ पर 21 अगस्त, 2022 को ट्रांसफार्मर जलने तथा बार-बार उत्पन्न हो रही समस्या के संबंध में शिकायत की थी।

ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (AK Sharma) की सराहनीय पहल पर भगवानपुर नौगांवा ग्राम के निवासियों को विद्युत आपूर्ति कर रहा ट्रांसफार्मर को तत्काल बदला ही नही गया, बल्कि ग्रामीणों को लो-वोल्टेज की समस्या से निजात दिलाने के लिए इसकी क्षमता वृद्धि भी की गई।

प्रदेशवासियों को 24 घंटे बिजली देने के लिए ऊर्जा विभाग गंभीरता से कार्य कर रहा: एके शर्मा

पहले ग्रामीणों को 25 केवीए क्षमता के ट्रांसफार्मर से विद्युत आपूर्ति की जा रही थी और ओवरलोडिंग होने के कारण बार-बार जल रहा था, जिसकी जांच कराने के पश्चात आवश्यकता अनुसार 63 केवीए का ट्रांसफार्मर लाकर आज 24अगस्त, 2022 की रात को ही स्थापित करा दिया गया और ग्रामीणों के लिए सुचारू विद्युत की आपूर्ति बहाल कर दी गई। इससे ग्रामवासियों को जहां लो-वोल्टेज की समस्या से राहत मिली और सही भार का ट्रांसफार्मर स्थापित हो जाने से इसके बार-बार जलने की समस्या से भी मुक्ति मिल गई।

ऊर्जा मंत्री के प्रयासों से 63 एमवीए का वृहद परिवर्तक उत्तराखण्ड से बलिया साढ़े चार दिनों में पहुंचा

ग्रामवासियों ने ऊर्जा मंत्री (AK Sharma) के त्वरित कार्रवाई से उनको तथा क्षेत्र के विद्युत कार्मिकों को बहुत-बहुत हार्दिक बधाई एवं धन्यवाद दिया है। ग्रामवासियों ने कहा है कि इससे अब उन्हें अंधेरे में नहीं रहना पड़ेगा। बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित नहीं होगी तथा सूख रही फसल को भी समय से पानी मिल पाएगा। विगत 02 वर्षों से बिजली के बार-बार बाधित होने से काफी संकटों का सामना करना पड़ता था। अब हमारी बिजली की समस्या का स्थाई समाधान हो सका।

Related Articles

Back to top button