UTTAR PRADESHLucknow

निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए अनुरक्षण कार्यों पर रहे विशेष जोर

लखनऊ।  प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री  एके शर्मा (AK Sharma) ने निर्देशित किया है कि मुख्यमंत्री की मंशानुरूप अधिकारी यह सुनिश्चित कर लें कि किसानों के लिए की जा रही विद्युत आपूर्ति में किसी भी स्तर पर कटौती बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कहा कि कम मानसून के चलते किसानों की फसलों को नुकसान से बचाने के लिए ऊर्जा विभाग के अधिकारियों को सतर्क रहकर कार्य करना होगा, जिससे कि किसी भी स्तर पर समस्या होने पर तत्काल संज्ञान लिया जा सके।

ऊर्जा मंत्री  एके शर्मा (AK Sharma) ने आज शक्ति भवन में उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के अधिकारियों के साथ बैठक कर यह अहम निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश को आगे ले जाने के लिए बिजली का अपना अलग ही महत्वपूर्ण स्थान होगा। पर्याप्त और निर्बाध बिजली प्रदेश को ऊंचाइयों तक ले जाने में सहायक होगी।

प्रदेश को ट्रिपिंग मुक्त, निर्बाध विद्युत आपूर्ति मिले, इसके लिए अनुरक्षण कार्यो पर विशेष जोर दिया जाए, जहां कहीं पर भी जर्जर एवं ढीले तार हो, उसे तत्काल ठीक किया जाए। खराब पोल को हटाए। ट्रांसफार्मर न जले, इसकी नियमित निगरानी की जाए। ओवरलोड ट्रांसफार्मर, फीडर, उपकेंद्र का  मांग के अनुरूप लोड भी बढ़ाया जाए। यह सभी कार्य निरंतर चलते रहना चाहिए। इसमें ढिलाई से विद्युत व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने एवं इसके सुचारू संचालन में व्यवधान उत्पन्न होगा।

सिंगल यूज प्लास्टिक को बनाने से लेकर इस्तेमाल करने वालों तक पर होगी कार्रवाई

एके शर्मा (AK Sharma) ने कहा कि विद्युत व्यवस्था सुचारु रुप से बहाल रहे, इसके लिए बिजली खपत के सापेक्ष राजस्व वसूली पर भी ध्यान दें। उपभोक्ताओं को समय पर सही बिल दें। समय से नियमित बिल जमा करने के लिए उन्हें प्रेरित भी करें। ऑनलाइन विद्युत बिल जमा करने पर भी जोर दिया जाए।

उन्होंने निर्माणाधीन परियोजनाओं को समय से व गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूरा करने के लिए कार्यों की नियमित मॉनिटरिंग करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की मंशा है कि नागरिकों को अधिक से अधिक सुविधाएं प्रदान की जाएं। साथ ही प्रदेश को जल्द ही 24 घंटे बिजली मिले, इस पर भी तेजी से कार्य किया जाए

बैठक में पावर कारपोरेशन के चेयरमैन  एम देवराज, प्रबंध निदेशक उत्पादन एवं पारेषण  पी गुरु प्रसाद, प्रबंध निदेशक पावर कारपोरेशन  पंकज कुमार के साथ  विभाग के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button