INTERNATIONAL

पड़ोसी देश में पहली बार हिन्दू महिला बनी असिस्टेंट कमिश्नर

पाकिस्तान में हिन्दू महिला सना रामचंद (Sana Ramchandra) ने सेंट्रल सुपीरियर सर्विसेज (CSS) की परीक्षा पार कर ली है। उनका चयन पाकिस्तान प्रशासनिक सेवा (PAS) में हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सना पहली हिन्दू महिला हैं जो सीएसएस (CSS)  के बाद पीएएस (PAS)  में चयनित हुई हैं। सना की नियुक्ति असिस्टेंट कमिश्नर के तौर पर हुई है। सना वर्तमान में सिंध इंस्टीट्यूट ऑफ यूरोलॉजी से एफसीपीएस कर रही हैं। जल्द ही एक क्वालिफाइड सर्जन बन जाएंगी। सीएसएस (CSS) परीक्षा में महीन हसन नामक महिला ने टॉप किया है। महीन ने चंडका मेडिकल कॉलेज से पढ़ाई की है और कराची के सिविल अस्पताल में काम कर चुकी हैं।

अयोध्या विवाद पर फैसला सुनाने वाले जज धर्मवीर शर्मा का निधन

सना एमबीबीएस डॉक्टर हैं और सिंध प्रांत के शिकारपुर जिले के ग्रामीण इलाके से आती हैं। कुल 18,553 छात्र इस परीक्षा में शामिल हुए थे, जिसमें 221 छात्र उत्तीर्ण हुए। अंतिम चुनाव साइकोलॉजिकल और ओरल टेस्ट के बाद किया गया। इसके बाद चुने गए छात्रों की मेरिट लिस्ट बनाई गई जिसमें सना का नाम भी है। अंतिम सूची में 79 महिलाओं का चयन हुआ है।

नतीजे आने के बाद सना (Sana) ने ट्वीट कर कहा कि वाहेगुरु जी का खालसा वाहेगुरु जी की फतेह। अल्लाह की कृपा से उन्होंने सीएसएस (CSS) का परीक्षा पार कर ली है और पीएएस (PAS) में उनका चुनाव हुआ है। इसका श्रेय उनके माता-पिता को जाता है।

Related Articles

Back to top button